एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप : चौथे स्थान पर रहा भारत

बुधवार, 24 अप्रैल को दोहा में खत्म हुई एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारत ने तीन गोल्ड, आठ सिल्वर और सात ब्रॉन्ज मेडल्स के साथ सातवें नंबर पर फिनिश किया था। हालांकि भारत का एक सिल्वर मेडल चाइना के प्रतिरोध के बाद वापस ले लिया गया जिससे उनके सिल्वर मेडल्स की संख्या सात ही रह गई।

टूर्नामेंट के आखिरी दिन भारत ने कुल पांच मेडल्स जीते जिसमें पीयू चित्रा का 1500 मीटर रेस का गोल्ड मेडल भी शामिल है।

चित्रा का कमाल

साल 2017 में खिताब जीतने वाली चित्रा ने इसे डिफेंड करते हुए भारत को चैंपियनशिप का तीसरा गोल्ड मेडल दिलाया। इधर अजय कुमार सरोज ने मेंस 1500 मीटर और मेंस तथा विमिंस 4*400 मीटर रिले टीम्स ने सिल्वर मेडल्स जीते। हालांकि चाइना के प्रतिरोध के बाद मेंस टीम का सिल्वर मेडल वापस ले लिया गया।

दुती चंद ने विमिंस 200 मीटर इवेंट में ब्रॉन्ज मेडल जीता। चित्रा ने बहरीन की रेसर गाशॉ टाइगेस्ट को फिनिशिंग लाइन से कुछ मीटर पहले पछाड़ते हुए 4.14.56 सेकेंड में रेस जीत ली। बहरीन की टाइगेस्ट ने 4:14.81 में सिल्वर जबकि बहरीन की ही मुटिल विनफ्रेड यावी ने 4:16.18 सेकेंड से ब्रॉन्ज मेडल जीता।

यह इस चैंपियनशिप में भारत का तीसरा गोल्ड मेडल था। इससे पहले गोमती एम ने विमिंस 800 मीटर और तेजिंदर पाल सिंह ने मेंस शॉटपुट में गोल्ड मेडल्स जीते थे। 23 साल की चित्रा ने जीत के बाद कहा, ‘रेस के अंत में गाशॉ के बगल में पहुंचकर थोड़ी नर्वस हो गई थी। उसने मुझे एशियन गेम्स में पीछे छोड़ा था। अंत में मुझे काफी मशक्कत करनी पड़ी।’

सरोज ने जीता सिल्वर

चित्रा ने भुवनेश्वर में हुए चैंपियनशिप के 2017 एडिशन में 4:17.92 सेकेंड में गोल्ड मेडल जीता था। इधर मेंस 1500 मीटर इवेंट में अजय कुमार सरोज ने 3.43.18 सेकेंड में सिल्वर मेडल हासिल किया। बहरीन के अब्राहम ने 3.42.85 सेकेंड के साथ गोल्ड मेडल जीता।

4*400 मीटर रिले में प्राची, पूवम्मा, सिरिताबेन गायकवाड़ और वीके विसमया की टीम ने 3.32.21 सेकेंड के साथ गोल्ड मेडलिस्ट बहरीन के पीछे दूसरे नंबर पर रही। कुन्हु मोहम्मद, केएस जीवन, मोहम्मद अनस और आरोकिया राजीव की मेंस 4*400 मीटर रिले टीम ने 3.03.28 सेकेंड के साथ सिल्वर मेडल जीता।

मंगलवार को हुए 100 मीटर फाइनल में निराशाजनक रूप से पांचवें स्थान पर रहने वाली दुती ने विमिंस 200 मीटर में 23.24 सेकेंड के समय से ब्रॉन्ज मेडल प्राप्त किया।

भारत ने चैंपियनशिप के इस एडिशन में 3 गोल्ड, 7 सिल्वर और 7 ब्रॉन्ज मिलाकर कुल 17 मेडल्स जीते। साल 2017 में हमने भुवनेश्वर में 12 गोल्ड, 5 सिल्वर और 12 ब्रॉन्ज के साथ कुल 29 पदक जीतकर चैंपियनशिप टॉप की थी।

क़तर की राजधानी दोहा में हुई इस बार की चैंपियनशिप में बहरीन ने 11 गोल्ड, 7 सिल्वर और 4 ब्रॉन्ज मेडल्स के साथ टेबल टॉप किया। चीन ने 10 गोल्ड, 12 सिल्वर और 8 ब्रॉन्ज जबकि जापान ने 5 गोल्ड, 4 सिल्वर और 9 ब्रॉन्ज मेडल्स जीते।

Author: Jack

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *