एल्बो ऑपरेशन के बाद आसानी से ठीक हो रहे हैं नीरज चोपड़ा : सुमारीवाला

एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (AFI) के चीफ आदिल सुमारीवाला का कहना है कि देश के स्टार भालाफेंक एथलीट नीरज चोपड़ा अपनी एल्बो सर्जरी के बाद बिना किसी दिक्कत के रिकवरी कर रहे हैं।

इसके साथ ही सुमारीवाला ने साफ किया कि नीरज को किसी भी कंपटिशन में उतारने की कोई जल्दी नहीं है। सुमारीवाला ने यहां तक कहा कि वह इस साल होने वाली वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए भी नीरज पर रिस्क नहीं लेंगे।

कम से कम तीन महीने का इंतजार

पिछले साल कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले 21 साल के नीरज का 2 मई को मुंबई स्थित कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी हॉस्पिटल में ऑपरेशन हुआ था। मशहूर ऑर्थोपेडिक सर्जन डॉक्टर दिनशॉ परदीवाला ने इस सफल ऑपरेशन को अंजाम दिया।

उनके दाहिने हाथ (जिससे वह भाला फेंकते हैं) की इस सर्जरी के जरिए उनके एल्बो जॉइंट से हड्डियों के टुकड़े निकाले गए। एचटी के मुताबिक उनकी रिकवरी में कम से कम तीन महीने लगेंगे। इसके चलते आने वाले सितंबर-अक्टूबर के महीने में होने वाली दोहा वर्ल्ड चैंपियनशिप में नीरज के खेलने पर संशय की स्थिति बन गई है।

थ्रो नहीं कर रहे नीरज

रिपोर्ट्स के मुताबिक सुमारीवाला ने कहा, ‘नीरज की एल्बो में कुछ हड्डियों के टुकड़े थे जिन्हें निकाल दिया गया है। उन्होंने हीथ मैथ्यूज के साथ अपनी फिजियोथेरेपी शुरू कर दी है। अब तक वह चार सेशन कर चुके होंगे। मैं नीरज की प्रोग्रेस के बारे में मैथ्यूज और डॉक्टर परदीवाला से बात करूंगा।’

सुमारीवाला ने आगे कहा, ‘नीरज थ्रो के अलावा बाकी सबकुछ कर रहे हैं। उनका रिहैबिलिटेशन जारी है। रोजाना की रिपोर्ट अच्छी है, अभी तक काफी अच्छी है, कोई समस्या नहीं है। हमें उनकी पूरी रिकवरी की उम्मीद है।’

मशहूर फिजियो हैं मैथ्यूज

आपको बताते चलें कि मैथ्यूज मुंबई के रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल के हेड ऑफ स्पोर्ट्स मेडेसिन होने के साथ ही एक मशहूर फिजियोथेरेपिस्ट भी हैं। मैथ्यूज ने अब तक के अपने करियर में सचिन तेंदुलकर, सानिया मिर्जा और महेश भूपति जैसे सुपरस्टार्स का इलाज किया है।

इस साल दोहा में होने वाली वर्ल्ड चैंपियनशिप में नीरज के खेलने की संभावनाओं के बारे में सवाल करने पर सुमारीवाला ने कहा, ‘हम सीढ़ी दर सीढ़ी चल रहे हैं, कोई जल्दबाजी नहीं है। उन पर कुछ भी करने के लिए दबाव नहीं डाला जा रहा है।’

सुमारीवाला ने आगे कहा, ‘हम उनसे वर्ल्ड चैंपियनशिप के बारे में बात भी नहीं कर रहे। अगर हम इसपर बात करेंगे तो वह खुद से और सख्ती से पेश आएगा। हम धीरे-धीरे आगे बढ़ेंगे। हमने उससे कहा है कि कि वह अपने रिहैबिलिटेशन पर ध्यान दे और फिर हम देखेंगे कि क्या करना है।’

Author: हिंदी में स्पोर्ट्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *