इतना आसान नहीं होगा ओलंपिक गोल्ड जीतना : मेरी कॉम

छह बार की वर्ल्ड चैंपियन लेजेंडरी बॉक्सर MC मेरी कॉम का कहना है कि लोगों के लिए उनसे ओलंपिक गोल्ड की उम्मीद करना बेहद आसान है लेकिन उनके लिए यह मुमकिन कर पाना उतना आसान नहीं होगा।

हालांकि मेरी ने यह भी कहा कि वह लोगों की उम्मीद पर खरी उतरने की पूरी कोशिश करेंगी।

गर्व की बात

न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए मेरी ने कहा,

आने वाले ओलंपिक में देश मुझसे गोल्ड मेडल की उम्मीद कर रहा है। व्यक्तिगत तौर पर मुझे इस बात पर गर्व होता है कि मैं ऐसी जगह हूं जहां लोग मुझसे ओलंपिक गोल्ड की उम्मीद कर रहे हैं, उनके लिए यह कहना आसान है और देश आसानी से यह कह सकता है लेकिन इसे पूरा करना मेरे लिए मुश्किल है।

हमें बहुत सारी चीजें सीखनी हैं और काफी काम करना है। मैं देश की उम्मीदों पर खरी उतरने की पूरी कोशिश करूंगी।

पहला लक्ष्य क्वॉलिफिकेशन

लंदन 2012 ओलंपिक की ब्रॉन्ज़ मेडलिस्ट मेरी कॉम ने आगे कहा कि वह धीरे-धीरे आगे बढ़ना चाहती हैं औक किसी जल्दबाजी में नहीं हैं क्योंकि ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई करना भी कंपटिशन से कम महत्वपूर्ण नहीं है। मेरी ने कहा,

क्वॉलिफिकेशन सबसे जरूरी टॉपिक्स में से एक है और एक बार जब मैं क्वॉलिफाई कर जाऊंगी, धीरे-धीरे मैं और बेहतर करूंगी। और जाहिर है मैं देखूंगी कि देश मुझसे क्या उम्मीद कर रहा है। मैं अपनी तरफ से पूरी कोशिश करूंगी।

हाल ही में खत्म हुए 23वें प्रेसिडेंट्स कप की 51Kg कैटेगरी की गोल्ड मेडलिस्ट मेरी कॉम से जब उनकी नई वेट कैटेगरी के बारे में सवाल किया गया तो उन्हों साफ किया कि कैटेगरी बदलना उनके लिए कोई समस्या नहीं है। मेरी ने कहा,

वजन बदलना कोई समस्या नहीं है और ना ही यह मेरे लिए कठिन है। 48Kg और 51Kg कैटेगीर में बहुत ज्यादा अंतर नहीं है। अब मेरे पास 51Kg में बहुत सारा अनुभव है और मैं अच्छे और अलग तरीके से तैयारी कर रही हूं।

फाइल फोटो : BFI से साभार

Author: Jack

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *