वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप : भारतीय चुनौती को लीड करेंगे गोल्डेन बॉय अमित पंघाल

एशियन चैंपियनशिप के गोल्ड मेडलिस्ट अमित पंघाल ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में डायरेक्ट एंट्री कर ली है। इधर ट्रायल्स में कॉमनवेल्थ गेम्स के सिल्वर मेडलिस्ट मनीष कौशिक ने उलटफेर करते हुए शिवा थापा को पीटकर सितंबर में होने वाले इस बड़े इवेंट के लिए टीम इंडिया में जगह बना ली।

मनीष ने नेशनल ट्रायल्स में चार बार के एशियन मेडलिस्ट शिवा को हराकर भारतीय टीम में हाल ही में बनी 63Kg कैटिगरी में जगह हासिल की। गौरतलब है कि वर्ल्ड चैंपियनशिप आने वाले 7 से 21 सितंबर तक रूस में होगी।

मनीष का उलटफेर

अमित पंघाल (52Kg) को एशियन चैंपियनशिप के उनके गोल्ड के चलते इंडियन स्क्वॉड में सीधी एंट्री मिल गई। उनके अलावा कविंदर सिंह बिष्ट (57Kg), दुर्योधन सिंह नेगी (69Kg), आशीष कुमार (75Kg), बृजेश यादव (81Kg), संजीत (91Kg), और सतीश कुमार (+91Kg) ने NIS पटियाला में हुए ट्रायल्स के जरिए भारतीय टीम में जगह पक्की की।

बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (BFI) के मुताबिक हर कैटेगरी के टॉप-2 बॉक्सर्स को ही ट्रायल्स के लिए बुलाया गया था। फेस-ऑफ के लिए नाम चुनने में बॉक्सर्स की हालिया परफॉर्मेंस को मानदंड बनाया गया था।

मनीष ने स्प्लिट वर्डिक्ट (तीन में से दो जजों के समर्थन) के जरिए 2015 वर्ल्ड चैंपियनशिप के ब्रॉन्ज-मेडलिस्ट शिवा थापा को मात दी। गौरतलब है कि मनीष ने 2018 के इंडिया ओपन में भी शिवा को मात दी थी हालांकि शिवा ने इंडिया ओपन के इस एडिशन में इस हार का बदला ले लिया था।

कविंदर, आशीष, बृजेश भी जीते

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक इस जीत से उत्साहित मनीष ने कहा,

इंडिया ओपन के फाइनल में शिवा से हारने के बाद यह मेरे लिए एक बड़ी आत्मविश्वास बढ़ाने वाली जीत है। मैं हार के बाद से ही अपने स्टांस और फुटवर्क पर काफी मेहनत कर रहा था और मुझे खुशी है कि मुझे इसका फल मिला। मैं वर्ल्ड चैंपियनशिप में अपना बेस्ट देने की उम्मीद करता हूं।

इधर 57Kg कैटेगरी में एशियन चैंपियनशिप के सिल्वर मेडलिस्ट कविंदर सिंह बिष्ट ने स्प्लिट वर्डिक्ट के जरिए मोहम्मद हसमुद्दीन को हराकर वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए इंडियन टीम में जगह बनाई। बिष्ट ने 2017 में पहली बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में खेला था और दो बार के वर्ल्ड चैंपियनशिप मेडलिस्ट अल्जीरिया के मोहम्मद फिल्सी को मात देकर क्वॉर्टर-फाइनल में एंट्री की थी।

कविंदर ने जीत के बाद कहा,

पिछली बार मैं मेडल जीतने के स्वर्णिम मौके को गंवा बैठा था। इस बार मैं इसमें बदलाव लाना चाहूंगा और मेरी नजर सिर्फ और सिर्फ गोल्ड मेडल पर है।

ट्रायल्स की 75Kg कैटेगरी में आशीष कुमार ने प्रयाग चौहान को मात देकर टीम इंडिया में जगह बनाई जबकि 69Kg में दुर्योधन सिंह नेगी ने आशीष कुल्हारी को स्प्लिट वर्डिक्ट के जरिए मात दी।

बृजेश यादव ने 81Kg में हर्ष लाकड़ा को आसानी से मात दी जबकि 91Kg में संजीत ने कॉमनवेल्थ गेम्स के ब्रॉन्ज मेडलिस्ट नमन तंवर को हराया। +91Kg में सतीश कुमार को रिंग में आना ही नहीं पड़ा क्योंकि उनके प्रतिद्वंद्वी नवीन चोट के चलते उतरे ही नहीं।

फाइल फोटो

Author: सूरज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *