हमें खत्म करना चाहते हैं AIFF और FSDL, बंद कर दूंगा मिनर्वा पंजाब FC : रंजीत बजाज

मिनर्वा पंजाब फुटबॉल क्लब के मालिक रंजीत बजाज ने शुक्रवार को लगातार ट्वीट्स कर कहा कि एक मई को होने वाले AFC कप मैच के लिए वेन्यू ना मिलने से निराश होकर वह क्लब बंद करने की दिशा में सोच रहे हैं।

गौरतलब है कि AFC कप में मिनर्वा को ग्रुप ई के मैच में नेपाल के मनांग मार्शियांगडी क्लब से खेलना है। बजाज का कहना है कि ओडिशा सरकार ने पहले भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में मैच खेलने की अनुमति दे दी थी लेकिन बाद में ऑल इंडिया फुटबॉल क्लब के दबाव में वापिस ले ली।

सोशल मीडिया पर बोले बजाज

रंजीत बजाज ने सबसे पहले स्टेडियम ना मिलने की खबर के लिंक के साथ ट्वीट कर कहा, ‘मैं ओडिशा के आदरणीय मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से हाथ जोड़कर मांग करता हूं कि वह इस मसले में दखल दें नहीं तो हम AFC से डिस्क्वालिफाई हो जाएंगे जहां हम भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

इस ट्वीट पर कोई आश्वासन ना मिलने के बाद बजाज ने एक और ट्वीट में नवीन पटनायक और CMO ओडिशा को टैग कर लिखा, ‘हम अब वेन्यू नहीं बदल सकते, काफी देर हो चुकी है और हमें AFC कप से डिस्क्वॉलिफाई कर दिया जाएगा। सभी परमिशन पहले ही मिल चुकी थी, प्लीज मदद करें।’

इसके थोड़ी देर बार बजाज ने एक और ट्वीट करते AIFF और फुटबॉल स्पोर्ट डेवलपमेंट लिमिटेड (FSDL) पर आरोप लगाया।

बजाज ने लिखा, ‘चैंपियन बनने के बाद AFC कप में खेलना हमारा अधिकार था लेकिन अब मुझे पता चला है कि AIFF और FSDL ने हमारी परमिशन कैंसल कराई। ओडिशा स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट कह रहा है कि उनसे बात करो। मैं इस बात से टूट गया हूं कि मेरी खुद की पेरेंट बॉडी हमारे AFC स्टेडियम का काम बिगाड़ रही है।’

बजाज ने एक और ट्वीट कर लिखा, ‘दुख की बात है कि यह पूरी तरह साफ है कि भारत में फुटबॉल को प्रमोट करने की जगह FSDL रिलायंस के साथ मिलकर ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन AIFF ऐसी फुटबॉल को देश से खत्म करने की कोशिश कर रहा है जिसका मालिकाना हक उनके पास नहीं है। AFC कप के शुरू होने के बाद ओडिशा सरकार से स्टेडियम बुकिंग कैंसल करवाना शर्मनाक है।’

इसके बाद बजाज ने ट्वीट कर क्लब बंद करने की घोषणा की। बजाज ने ट्वीट किया, ‘बेहद भारी हृदय के साथ मैंने आज फैसला किया कि मिनर्वा पंजाब भी वही करेगा जो कई लोग कर चुके हैं। 2018-19 सीजन की आई-लीग सीनियर/अंडर13/अंडर15/अंडर18 चैंपियन। चार साल में छह टाइटल जीतने वाली अलग-अलग इंडियन टीम्स में 60 से ज्यादा लड़के देने वाला क्लब बंद होने जा रहा है।’

रंजीत बजाज ने इसके बाद भी कई ट्वीट्स कर AIFF और FSDL पर कई गंभीर आरोप लगाए।

इधर इंडिया टुडे के मुताबिक AIFF ने स्टेडियम की बुकिंग कैंसल कराने के आरोप को पूरी तरह से खारिज करते हुए कहा कि उसका इस मसले से कोई सरोकार नहीं है, यह स्टेडियम ओडिशा सरकार का है।

आपको बता दें कि इंडियन फुटबॉल के आलाकमान की तानाशाही और कुप्रबंधन के चलते पहले भी कई फुटबॉल क्लब बंद हो चुके हैं। हाल के सालों में भारत FC, पुणे FC, मुंबई FC, रॉयल वाहिंगदोह, स्पोर्टिंग गोवा, सालगांवकर, DSK शिवाजियंस, डेम्पो, रंगदाजीद यूनाइटेड जैसे क्लब बंद हो चुके हैं और शायद मिनर्वा भी इसमें शामिल हो जाएगा।

आपको बता दें कि मिनर्वा ने हाल ही में जर्मन क्लब बोरुशिया मंचेनग्लाडबाख के साथ पार्टनरशिप के सिलसिले में MoU साइन किया था।

Author: सूरज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *