बेंगलुरु FC बना इंडियन सुपर लीग का चैंपियन

फुलबैक राहुल भेके द्वारा मैच के एक्स्ट्रा टाइम में दागे गए गोल की बदौलत बेंगलुरु FC ने संडे को मुंबई फुटबाल अरेना में खेले गए फाइनल में FC गोवा को 1-0 से हराकर इंडियन सुपर लीग (ISL) के पांचवें सीजन का खिताब जीत लिया। बेंगलुरु ने पहली बार यह खिताब जीता है जबकि गोवा की टीम 2015 के बाद दूसरी बार उपविजेता रही है।

मैच के अंतिम पलों में डिमास डेल्गाडो के कॉर्नर को गोल में भेज, भेके ने बेंगलुरु को चैंपियन बनाया। बेंगलुरु की टीम लगातार दूसरे साल फाइनल में पहुंची थी। बीते साल उसे चेन्नैइन FC के हाथों हार मिली थी। दूसरी ओर, FC गोवा दूसरी बार फाइलन में पहुंचकर भी खिताब से महरूम रह गई। इससे पहले टीम को 2015 के फाइनल में चेन्नैइन FC के हाथों हार मिली थी।

जाहो का जाना पड़ा गोवा पर भारी

मोरक्कन डिफेंसिव मिडफील्डर अहमद जाहो को एक्स्ट्रा टाइम के पहले हाफ से ठीक पहले रेड कार्ड दिखाए जाने के कारण गोवा की टीम को 10 प्लेयर्स के साथ खेलने पर मजबूर होना पड़ा, इसका पूरा फायदा उठाते हुए बेंगलुरु ने विजयी गोल दागकर खिताब अपने नाम किया।

इस सीजन में बेंगलुरु की गोवा पर यह लगातार तीसरी जीत है। इससे पहले मैच का पहला हाफ 0-0 पर समाप्त हुआ। इस दौरान गेम की पेस स्लो रही और इक्के-दुक्के मौकों को छोड़ दिया जाए तो कोई भी टीम बड़ा मौका नहीं बना सकी। मैच के सेकंड हाफ में एक्शन थोड़ा बढ़ा लेकिन रिजल्ट 0-0 ही रहा जिसके बाद मैच को एक्स्ट्रा टाइम में ले जाना पड़ा।

मैच के 105वें मिनट में मीकू पर गलत तरीके से प्रहार करने के कारण जाहो को मैच का दूसरा येलो कार्ड मिला और वह मैदान से बाहर जाने पर मजबूर हुए। अब गोवा को 10 खिलाड़ियों के साथ खेलना था। एक्स्ट्रा टाइम के दूसरे हाफ में गोवा ने जैकीचंद को बाहर कर मनवीर सिंह को अंदर लिया।

112वें मिनट में बेंगलुरु ने एकसाथ दो बदलाव किए, उदांता और निशु बाहर गए जबकि कीन लेविस और बोईथांग हाओकिप अंदर आए। ऐसा लग रहा था कि मैच पेनाल्टी शूटआउट तक खिंच जाएगा लेकिन इसी बीच 117वें मिनट में भेके ने एक सटीक हेडर के जरिए गोल करते हुए बेंगलुरु का खाता खोल दिया।

Author: लवली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *