मेरे लिए सभी से ऊपर हैं क्रिस्टियानो रोनाल्डो: विराट कोहली

भारतीय क्रिकेट के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि उनके आइडल पुर्तगाल इंटरनेशनल क्रिस्टियानो रोनाल्डो हैं। कोहली का मानना है कि उनके युवेंटस फॉरवर्ड रोनाल्डो सबसे ऊपर आते हैं।

रोनाल्डो और कोहली ने फिटनेस के मामले में ना केवल खुद के लिए एक स्टैंडर्ड सेट किया है बल्कि दोनों स्टार प्लेयर्स ने अपनी फिटनेस से दूसरों के लिए भी एक बेंचमार्क सेट किया है।

रोनाल्डो की तारीफ

वेस्टइंडीज के खिलाफ T20 सीरिज खेलने के लिए फ्लोरिडा पहुंचे कोहली ने फीफा.कॉम से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने रोनाल्डो की काफी तारीफें की हैं। उन्होंने कहा,

मेरे लिए क्रिस्टियानो रोनाल्डो सभी से ऊपर हैं। उनकी कमिटमेंट और वर्क एथिक्स का कोई मेल नहीं है। वह इसे बहुत बुरी तरह चाहते हैं। आप उनकी इस चाह को हर गेम में देख सकते हैं। रोनाल्डो मुझे प्रेरित करते हैं।

मेसी-रोनाल्डो डिबेट

गौरतलब है कि बार्सिलोना सुपरस्टार लियोनल मेसी और रोनाल्डो के बीच बेस्ट प्लेयर कौन है, इस बात पर चर्चा काफी पुरानी है। रोनाल्डो की तारीफ के पुल बांधते कोहली भी इस कभी न खत्म होने वाले डिबेट का हिस्सा बन गए।

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक कोहली ने कहा कि उनका मानना है कि रोनाल्डो का करियर मेसी से बेहतर था और है। उन्होंने कहा,

मेरी राय में रोनाल्डो ने ज्यादा चैलेंज लिए हैं और उन्हें पूरा करने में सफल भी रहे हैं। जितने भी प्लेयर्स मैंने देखे हैं उनमें रोनाल्डो सबसे कंप्लीट प्लेयर हैं और उनकी कार्य नीति बेजोड़ है। वह लोगों को प्रेरित करते हैं। मुझे नहीं लगता कि कई लोग यह करते भी हैं। वह एक लीडर भी हैं और मुझे वह पसंद है। उनका विश्वास अद्भुत है।

ब्राज़ीलियन लेजेंड्स हैं फेवरेट

इंडियन कैप्टन कोहली ने आगे कहा कि वह ब्राज़ीलियन रोनाल्डो, रोनाल्डीनियो, जर्मनी के पूर्व स्टॉपर ओलिवर कान, मेसी, क्रोएशिया के कैप्टन लूका मॉड्रिच के साथ स्पैनिश वर्ल्ड कप विजेता आंद्रेस इनिएस्ता और ज़ावी को देखकर बड़े हुए हैं। उन्हें इन प्लेयर्स को खेलते देखना काफी पसंद है।

फुटबॉल वर्ल्ड कप

फीफा.कॉम से बातचीत के दौरान कोहली ने खुलासा किया कि उनकी फुटबॉल की फेवरेट यादों में से एक है 1998 और 2002 का वर्ल्ड कप देखना। उन्होंने कहा,

1998 और 2002वर्ल्ड कप के दौरान ब्राज़ील को देखना काफी मजेदार था। मैंने रोनाल्डो को खेलते देखा था जो उस वक्त एक फेनोमेनन थे। उन्होंने अपने कौशल और क्षमता का प्रदर्शन किया था। वह ग्रेटेस्ट फुटबॉलर्स में से एक रहेंगे।

मुझे अब पुर्तगाल को खेलते देखना पसंद है क्योंकि वे लोग अपनी रिसोर्सेज को बढ़ा रहे हैं और साथ में उनकी टीम में एक लेजेंड भी हैं। वे लोग पैशन और विश्वास के साथ खेलते हैं। इसलिए मुझे उन्हें खेलते देखना पसंद है। कौशल और प्रभाव के बारे में बात करें तो फ्रांस काफी मजबूत है।

फोटो साभार : नेशंस लीग

Author: लवली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *