‘FIFA EC में पहुंचकर इंडियन फुटबॉल को बेहतर कर सकते हैं प्रफुल्ल पटेल’

ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) के वाइस-प्रेसिडेंट सुब्रत दत्ता का मानना है कि AIFF प्रेसिडेंट प्रफुल्ल पटेल के फीफा एग्जिक्यूटिव काउंसिल का मेंबर बनने के बाद भारत के लिए वर्ल्ड फुटबॉल में संभावनाएं बढ़ेंगी।

प्रफुल्ल पटेल आने वाले वक्त में फीफा एग्जिक्यूटिव काउंसिल में चार साल (2019 से 2023) के लिए सदस्य बन सकते हैं। एशियन फुटबॉल कंफेडरेशन (AFC) की ओर से पांच मेंबर्स को फीफा काउंसिल में शामिल किया जाएगा।

आशावान हैं प्रफुल्ल एंड टीम

पटेल को उम्मीद है इसके लिए मलेशिया के कुआललम्पुर में छह अप्रैल को AFC की 29वीं कांग्रेस के दौरान होने वाले चुनाव में उनका चयन हो जाएगा। इस चुनाव में कुल आठ उम्मीदवार है जिसमें से पांच का चयन होगा।

रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बारे में बात करते हुए दत्ता ने से कहा, ‘अगर पटेल फीफा काउंसिल के सदस्य बन जाते हैं तो यह हमारे देश के लिए कई तरह से फायदेमंद सकता है।

हमें कोलकाता के पास सेंटर ऑफ एक्सिलेंस की स्थापना करने के लिए अधिक टेक्निकल और फिनांशियल हेल्प मिलेगी। हमें योग्य प्रशिक्षकों के विकास और बेहतर रेफरी तैयार करने में मदद मिलेगी।’

दत्ता ने आगे कहा, ‘भारत ने 2017 में फीफा अंडर-17 मेंस वर्ल्ड कप की मेजबानी की है और हम 2020 में विमिंस के लिए फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप की मेजबानी कर रहे हैं। अगर पटेल फीफा काउंसिल के मेंबर बन जाते हैं तो हमें अन्य बड़े आयोजनों की मेजबानी मिल सकती है।’

Author: Jack

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *