बार्सिलोना को जिताने वाला मैं था, ना कि लियोनल मेसी : एटो

FC बार्सिलोना के पूर्व स्ट्राइकर सैमुएल एटो ने मैनचेस्टर सिटी के मौजूदा मैनेजर पेप गार्डिओला पर निशाना साधा है। 2004 से 2009 के बीच बार्सा के लिए खेलने वाले एटो का मानना है कि उस वक्त बार्सा के मैनेजर रहे पेप ने उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया था।

एटो ने एक इंटरव्यू में साफ कहा कि 2008/09 सीजन में क्लब को डबल जिताने में उनका सबसे बड़ा योगदान था। एटो के मुताबिक वह उनका एरा था ना कि लियोनल मेसी का।

बेच दिए गए थे एटो

बार्सिलोना के 2008/09 सीजन के दौरान कैटलन क्लब पर गार्डिओला का पूरा कंट्रोल था। गौरतलब है कि गार्डिओला के कैंप नोउ आने से पहले क्लब के साथ अपने चार साल के करियर के दौरान एटो ने 147 गेम्स में 94 गोल्स किए थे। पर पेप द्वारा क्लब की कमान संभाले जाने के बाद पर्सनल लेवल पर एटो का कैंप नोउ में पहला और आखिरी सीजन कुछ खास नहीं रहा।

प्रोफेशनल तौर पर इस सीजन उन्होंने कुल 52 गेम्स में 36 गोल स्कोर किए थे और उस सीजन बार्सिलोना ने ला लीगा के साथ चैंपियंस लीग भी अपने नाम की थी। लेकिन उन दिनों बार्सिलोना के फेस वैल्यू बन चुके लियोनल मेसी का फर्स्ट टीम में प्रभाव बढ़ता जा रहा था।

गार्डिओला ने एक ही सीजन बाद एटो को एक स्वैप डील में इंटर मिलान को बेच दिया। इस स्वैप डील में बार्सिलोना पूर्व स्वीडिश स्टार ज़्लाटान इब्राहिमोविच को कैंप नोउ लाने में सफल रहा था। एटो का मानना है कि गार्डिओला ने उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया था।

गार्डिओला से खफा हैं एटो

एटो का मानना है कि 2008/09 सीजन में क्लब को डबल दिलाने में मेसी नहीं बल्कि उनका योगदान था। बीइन स्पोर्ट्स से बातचीत के दौरान एटो ने कहा, ‘पेप अपनी पूरी जिंदगी बार्सिलोना में रहे पर बार्सा में मैंने जो वक्त बिताया उस दौरान सिटी मैनेजर ने टीम को नहीं समझा। वह हमारी टीम के जीवन को नहीं जी पाए।

मैंने गार्डिओला से कहा भी था, आप मुझसे माफी मांगेंगे क्योंकि वह मैं हूं जो बार्सिलोना को जीत दिलाउंगा ना कि मेसी। आप ज़ावी के साथ-साथ आंद्रेस इनिएस्ता और दूसरे प्लेयर्स से भी पूछ सकते हैं, वह मेरा एरा था। वह मैं था जिसने बार्सा को जीत दिलाई थी और गार्डिओला मुझसे माफी मांगेंगे।’

Author: लवली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *