ज़िनेदिन ज़िदान ने की घरवापसी, सैक हुए सोलारी

फ्रेंच लेजेंड ज़िनेदिन ज़िदान ने एक बार फिर से स्पैनिश क्लब रियल मैड्रिड के मैनेजर की पोस्ट को संभाल लिया है। क्लब के साथ लगातार तीन चैंपियंस लीग जीतने वाले ज़िदान ने बीते साल मई में अपनी पोस्ट से इस्तीफा देकर लोगों को चौंका दिया था।

सैक हुए सोलारी

सोमवार को रियल मैड्रिड के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की मीटिंग के बाद ज़िदान को नियुक्त करने का फैसला किया गया। ज़िदान को 2020 तक का कॉन्ट्रैक्ट दिया गया है। इससे पहले मीटिंग में हुए एक अहम फैसले में क्लब ने फर्स्ट टीम के मौजूदा कोच सैंटियागो सोलारी को उनकी जिम्मेदारियों से मुक्त कर दिया। हालांकि बोर्ड ने पांच महीने तक फर्स्ट टीम को कोच करने वाले सोलारी को क्लब के साथ जुड़े रहने का ऑफर दिया है।

जानने लायक है कि ज़िदान के बाद रियाल ने हुलेन लोपेतेगी को मैनेजर नियुक्त किया था लेकिन खराब रिजल्ट्स के चलते उन्हें जल्दी ही सैक कर सोलारी को यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी।

सोलारी के अंडर भी टीम का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा। टीम चैंपियंस लीग से बाहर हो चुकी है। इसके अलावा वे ला लीगा में भी टॉप पर चल रही बार्सिलोना से 12 पॉइंट पीछे है। रियल को कोपा डेल रे के सेमीफाइनल में भी बार्सिलोना से हार झेलनी पड़ी थी।

कमाल का है ज़िदान का रिकॉर्ड

ज़िदान जनवरी 2016 से मई 2018 तक रियल मैड्रिड के मैनेजर रहे थे। इस दौरान टीम ने लगातार तीन बार चैंपियंस लीग का जबकि एक बार ला लीगा का खिताब जीता था। इस दौरान टीम ने 149 मैचों में से 104 में जीत दर्ज की। 29 मैच ड्रॉ रहे।

वापसी के बाद पहली बार मीडिया से बात करते हुए ज़िदान ने कहा, “घर वापस आने से खुश हूं। मैं टीम को फिर से उसी स्थान पर देखना चाहता हूं जहां ये हमेशा रहती है। बाहर से टीम के खराब प्रदर्शन को देखना अच्छा नहीं था।”

Author: लवली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *