कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप : पहले दिन भारत ने जीते 13 मेडल्स

पूर्व वर्ल्ड चैंपियन मीराबाई चानू की अगुवाई में भारतीय वेटलिफ्टर्स ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए कॉमनवेल्थ वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप के पहले दिन 13 मेडल्स बटोर लिए।

टीम इंडिया ने टूर्नामेंट के पहले दिन सीनियर, जूनियर और यूथ कैटेगरी में 8 गोल्ड, 3 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज मेडल समेत कुल 13 मेडल्स जीते।

मीरा का गोल्ड

मीराबाई ने सीनियर 49Kg कैटेगरी में टोटल 191 (84+107Kg) वजन उठाकर इस ओलंपिक क्वॉलिफाइंग इवेंट का गोल्ड मेडल जीता। इस गोल्ड से मिले पॉइंट्स टोक्यो2020 ओलंपिक गेम्स की फाइनल रैंकिंग्स में काम आएंगे।

इससे पहले मीराबाई ने बीते अप्रैल में एशियन चैंपियनशिप में भाग लिया था जहां 199 किलो उठाने के बाद भी वह मेडल से चूक गई थीं। हालांकि उन्होंने क्लीन एंड जर्क कैटेगरी का ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

टोक्यो2020 के लिए क्वॉलिफिकेशन प्रोसेस 18 महीनों के अंदर हुए छह इवेंट्स की परफॉर्मेंस पर निर्भर करेगी। इसमें चार बेस्ट रिजल्ट पर विचार किया जाएगा। मीराबाई के साथ झिली डलबेहड़ा ने भी गोल्ड मेडल जीता। झिली ने 45Kg में 154 (70+94Kg) वजन उठाकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया। गौरतलब है कि 45Kg वेट कैटेगरी ओलंपिक में नहीं होती।

बिंद्या ने भी जीता गोल्ड

सीनियर विमिंस 55Kg में सोरोइखाबाम बिंद्यारानी देनी और मात्सा संतोषी ने गोल्ड और सिल्वर मेडल्स जीते।

विंद्यारानी ने स्नैच में 78Kg वजन उठाकर सिल्वर मेडल जीता और फिर क्लीन एंड जर्क में 105Kg वजन उठाकर इस कैटेगरी के साथ ओवरऑल में भी गोल्ड मेडल अपने नाम किया। स्नैच में 80Kg उठाकर गोल्ड मेडल जीतने वाली संतोषी क्लीन एंड जर्क में 102Kg ही उठा पाईं।

सीनियर मेंस की 55Kg कैटेगरी में ऋषिकांत सिंह ने 235Kg (105+130Kg) उठाकर गोल्ड मेडल जीता।

फाइल फोटो : सोशल मीडिया से साभार

Author: Jack

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *