NRAI ने खेल रत्न के लिए प्रस्तावित किया हीना और अंकुर का नाम

नेशनल राइफल असोसिएशन ऑफ इंडिया (NRAI) ने सोमवार को इस बार के खेल रत्न अवॉर्ड के लिए पिस्टल शूटर हीना सिद्धू और ट्रैप शूटर अंकुर मित्तल के नाम का प्रस्ताव भेजा है।

इनके अलावा अंजुम मौदगिल (राइफल), शाहजार रिजवी (पिस्टल) और ओम प्रकाश मिथरवाल (पिस्टल) के नाम अर्जुन पुरस्कार के लिए भेजे गए हैं। NRAI ने द्रोणाचार्य अवॉर्ड के लिए जसपाल राणा और रौनक पंडित का नाम प्रस्तावित किया है।

वर्ल्ड रिकॉर्ड वाली हीना

वर्ल्ड कप, कॉमनवेल्थ गेम्स, कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप और एशियन चैंपियनशिप की गोल्ड मेडलिस्ट की हीना, इंटरनेशनल शूटिंग स्पोर्ट फेडरेशन (ISSF) वर्ल्ड रैंकिग को टॉप करने वाली पहली इंडियन पिस्टल शूटर हैं। सिद्धू के नाम 10 मीटर एयर पिस्टल फाइनल में 203.8 पॉइंट्स का वर्ल्ड रिकार्ड भी है। सिद्धू को 2014 में अर्जुन अवॉर्ड मिल चुका है।

दूसरी तरफ मित्तल लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाले इंडियन शूटर्स में शामिल हैं। डबल ट्रैप शूटर अंकुर ने 2017 की वर्ल्ड चैंपियनशिप में रजत और वर्ल्ड कप में गोल्ड मेडल हासिल किया। इसके अलावा अंकुर 2018 में हुई एशियन चैंपियनशिप और कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल भी जीत चुके हैं।

मित्तल को पिछले साल ही अर्जुन अवॉर्ड मिला था। आपको बता दें कि इन दोनों के नॉमिनेट होने से पहले अभिनव बिंद्रा, अंजलि भागवत, राज्यवर्धन सिंह राठौर, मानवजीत सिंह संधू, विजय कुमार, गगन नारंग, रोंजन सोढी और जीतू राय को राजीव गांधी खेल रत्न मिल चुका है।

बेहतरीन शूटर अंजुम

अर्जुन पुरस्कार के लिए नामांकित की गईं अंजुम मौदगिल ने पिछले साल सितंबर में हुई वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतकर टोक्यो2020 ओलंपिक का कोटा हासिल किया था। इसके साथ ही वह ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली पहली इंडियन शूटर बन गई थीं।

अर्जुन पुरस्कार के लिए नामित हुए शाहज़ार रिजवी ने 2018 में बीजिंग और म्यूनिख वर्ल्ड कप में क्रमश: वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ गोल्ड और सिल्वर मेडल जीता था। जबकि तेइस साल के ओम प्रकाश मिथरवाल ने कोरिया के चांगवोन में हुई पिछली वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेंस 50 मीटर इवेंट में गोल्ड मेडल जीता था।

इन प्लेयर्स के अलावा पूर्व शूटर्स जसपाल राणा और रौनक पंडित को कोच को मिलने वाले द्रोणाचार्य अवॉर्ड के लिए नामित किया गया है। रौनक जहां हीना के पति और कोच हैं वहीं स्क्रॉल के मुताबिक जूनियर टीम के पूर्व कोच राणा को 2018 के एशियन गेम्स के बाद भी द्रोणाचार्य अवॉर्ड के लिए नामित किया जा चुका है।

फाइल फोटो

Author: Jack

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *