ISSF वर्ल्ड कप : सिल्वर मेडल जीतकर दिव्यांश ने हासिल की ओलंपिक बर्थ

महज 17 साल के युवा भारतीय निशानेबाज दिव्यांश सिंह पंवार ने शुक्रवार, 26 अप्रैल को चीन में चल रहे ISSF वर्ल्ड कप में सिल्वर मेडल जीतकर शूटिंग में भारत के लिए चौथा ओलंपिक टिकट हासिल कर लिया।

अपने दूसरे वर्ल्ड कप में उतरे दिव्यांश ने 10 मीटर एयर राइफल इवेंट में 249.0 पॉइंट्स स्कोर कर सिल्वर मेडल जीता। चीन के झिचेंग हुई ने उनसे 0.4 पॉइंट, कुल 249.4 पॉइंट बनाकर गोल्ड मेडल जीता। रूस के ग्रिगोरी शामाकोव ने 227.5 पॉइंट्स के साथ ब्रॉन्ज मेडल जीता।

मिला चौथा टिकट

दिव्यांश ने सिल्वर जीतकर भारत को शूटिंग में चौथा ओलंपिक कोटा दिला दिया। दिव्यांश से पहले अंजुम मौदगिल और अपूर्वी चंदेला (विमिंस 10 मीटर एयर राइफल) और सौरभ चौधरी (मेंस 10 मीटर एयर पिस्टल) टोक्यो2020 ओलंपिक का कोटा हासिल कर चुके हैं।

दिव्यांश ने मेडल जीतने के बाद कहा, ‘अपने देश के लिये ओलंपिक कोटा जीतकर काफी गर्व महसूस हो रहा है। मैंने इस फाइनल से काफी अनुभव हासिल किया। यह काफी कठिन टूर्नामेंट था, जिसमें अनुभवी निशानेबाज और ओलंपियन भाग ले रहे थे।’

इससे पहले दिव्यांश ने 629.2 पॉइंट्स बनाकर फाइनल के लिए क्वॉलिफाई किया था। इस इवेंट में उतरे अन्य भारतीयों में रवि कुमार ने 624.1 पॉइंट्स से 44वां जबकि दीपक कुमार ने 622.6 पॉइंट्स से 57वां स्थान हासिल किया।

दिव्यांश का दूसरा मेडल

यह इस इवेंट में दिव्यांश का दूसरा गोल्ड मेडल है। इससे पहले उन्होंने गुरुवार, 25 अप्रैल को अंजुम मौदगिल के साथ मिलकर लियु रूक्सुआन और यांग हाओरन की चाइनीज टीम को 17-15 से हराकर 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम इवेंट का गोल्ड मेडल जीता था।

यह भारत का चीन में चल रहे इस वर्ल्ड कप में तीसरा मेडल है और मेडल टैली में देश टॉप पर है। भारत के लिए टूर्नामेंट का दूसरा गोल्ड मनु भाकर और सौरभ चौधरी की जोड़ी ने 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड टीम इवेंट में जीता था।

आपको बता दें कि दिव्यांश इस इवेंट में वर्ल्ड कप मेडल जीतने वाले सिर्फ तीसरे इंडियन शूटर हैं। उनसे पहले गगन नारंग (गोल्ड) और संजीव राजपूत (सिल्वर) ही इस प्रतियोगिता के इस इवेंट में मेडल जीत पाए हैं।

फाइल फोटो

Author: हिंदी में स्पोर्ट्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *