कॉमनवेल्थ गेम्स का बहिष्कार नहीं कर सकता IOA : किरण रिजिजू

बर्मिंघम 2022 कॉमनवेल्थ से शूटिंग के बाहर होने के बाद इंडियन ओलंपिक असोसिएशन (IOA) ने धमकी दी थी कि वह कॉमनवेल्थ गेम्स का बहिष्कार कर सकते हैं। इस मसले पर कमेंट करते हुए स्पोर्ट्स मिनिस्टर किरण रिजिजू ने साफ किया है कि कॉमनवेल्थ गेम्स का बहिष्कार करने का फैसला IOA अकेले नहीं ले सकता है।।

हाल ही में जापान में खत्म हुई FIH विमिंस सीरीज फाइनल्स में गोल्ड मेडल जीतकर लौटी इंडियन विमिंस हॉकी टीम से मुलाकात के इतर इस मसले पर बात करते हुए रिजिजू ने कहा कि इस मसले पर स्पोर्ट्स मिनिस्ट्री IOA से बात करेगी।

चाहिए होगी मंजूरी

रिजिजू ने कहा,

‘अगर आपको बहिष्कार करना है तो आपको सरकार से मंजूरी लेनी होगी। खिलाड़ियों के भविष्य से जुड़े फैसले अकेले नहीं लिए जा सकते। यह नेशनल ऑनर की बात है इसलिए जब इस तरह के फैसले लिए जाते हैं तो उसके लिए सबकी मंजूरी चाहिए होती है।’

इससे पहले कॉमनवेल्थ गेम्स से शूटिंग के बाहर होने के बाद IOA सेक्रेटरी राजीव मेहता ने कहा था कि भारत बर्मिंघम 2022 कॉमनवेल्थ गेम्स का बहिष्कार कर सकता है। मेहता ने कहा था,

शूटिंग भारत में एक बड़ा खेल है और कई शूटर्स के लिए कॉमनवेल्थ गेम्स (CWG) दो साल बाद होने वाले ओलंपिक्स के लिए काफी अहम होता है। यह शूटिंग और भारतीय स्पोर्ट्स के लिए करारा झटका है। हमने CGF में अपनी बात रखी है और सरकार ने भी ऐसा किया है लेकिन इसके बावजूद शूटिंग को बाहर कर दिया गया।

हमें पता है कि अब CGF के फैसले को पलटना आसान नहीं होगा लेकिन अभी सब खत्म नहीं हुआ है। हमारे पास एक महीने का वक्त है। (71 CGF मेंबर्स द्वारा नए गेम्स को ऐड करने के लिए होने वाली वोटिंग से पहले) IOA की एग्जिक्यूटिव काउंसिल अगले दो हफ्तों में फैसला करेगी, और हम कोई बड़ा फैसला लेने से पीछे नहीं हटेंगे।

जब मेहता से पूछा गया कि क्या भारत इन खेलों का बहिष्कार कर सकता है उन्होंने कहा,

इससे इनकार नहीं किया जा सकता। हम यहां तक भी जा सकते हैं।

इसके साथ ही रिजिजू ने राज्य सरकारों से खेल नीति में एकरूपता बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा,

खेल मुख्यत: राज्य का विषय है इसलिए मैं राज्य सरकारों से अपील करूंगा कि वह खेलों के विकास पर ध्यान दें।

फाइल फोटो, सोशल मीडिया से साभार

Author: सूरज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *