एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप : दूसरे दिन भारत ने जीते पांच मेडल्स

चीन में चल रही एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप के दूसरे दिन इंडियन रेसलर्स ने मेंस फ्रीस्टाइल में दो सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज मेडल्स जीते। बुधवार, 24 अप्रैल को मैट पर उतरने वाले पांचों भारतीय पहलवानों ने मेडल्स जीते। हालांकि इस दौरान किसी के हाथ गोल्ड मेडल नहीं लगा।

74KG में अमित धनखड़ और 92KG में विकी को फाइनल में हार मिली जबकि 61KG में राहुल अवारे, 86KG में दीपक पुनिया और 125KG में कॉमनवेल्थ गेम्स के गोल्ड मेडलिस्ट सुमित ने ब्रॉन्ज मेडल्स जीते।

परास्त हुए विकी और अमित

एशियन चैंपियनशिप 2013 के गोल्ड मेडलिस्ट अमित को फाइनल में कजाखस्तान के डेनियार केसानोवा के खिलाफ 0-5 की करारी हार मिली।

हरियाणा के 28 साल के अमित ने क्वॉलिफिकेशन में ईरान के मोहम्मद असगर नोखोदिलारिकी के खिलाफ 2-1 की जीत से शुरुआत की। क्वॉर्टर-फाइनल में उन्हें अधिक पसीना नहीं बहाना पड़ा और उनके प्रतिद्वंद्वी जापान के युही फुजिनामी चोटिल होकर बाहर हो गए। सेमीफाइनल में अमित ने किर्गिस्तान के इलगिज झाकिपबेकोव को 5-0 से शिकस्त दी थी।

इधर क्वॉर्टर-फाइनल में पाकिस्तानी रेसलर मोहम्मद इनाम के ना पहुंचने के बाद बाई पाने वाले विकी ने सेमी-फाइनल में चीन के शियाओ सुन को 3-2 से हराया। हालांकि, फाइनल में उन्हें ईरान के अलीरेजा मोहम्मद करीमीमाचियानी के खिलाफ 11-0 से शर्मसार होना पड़ा।

मिला भाग्य का साथ

गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स के 57KG इवेंट में गोल्ड मेडल जीतने वाले अवारे ने मेंस 61KG फ्रीस्टाइल के ब्रॉन्ज मेडल प्ले ऑफ में कोरिया के जिनचियोल किम को 9-2 से हराया। अवारे ने क्वॉलिफिकेशन राउंड में उज्बेकिस्तान के जाहोनगिरमिर्जा तुरोबोव को (10-0) से हराया था।

अवारे को क्वॉर्टर-फाइनल में ईरान के ऐशाग अहसनपुर के खिलाफ हार मिली थी। अहसनपुर के फाइनल में जगह बनाने पर अवारे को रेपेचेज में थाइलैंड के सिरीपोंग जुमपाकम के खिलाफ खेलने का मौका मिला और उन्होंने यह मुकाबला 12-1 से अपने नाम किया।

दीपक ने 86KG फ्रीस्टाइल के क्वॉलिफिकेशन में तुर्कमेनिस्तान के डोवलेटमाइरेट ओराजगीलिजोव को 11-7 से हराकर अच्छी शुरुआत की और फिर चीन के लिन झूशेन को हराया।

हालांकि दीपक को सेमी-फाइनल में ईरान के कामरान घोरबान घासेमपुर के खिलाफ 10-0 की करारी हार का सामना करना पड़ा। इसके बाद दीपक ने ब्रॉन्ज मेडल के प्ले-ऑफ में ताजिकिस्तान के बखोदुर कोदिरोव के खिलाफ 8-2 की आसान जीत दर्ज की।

मेडल्स टैली पहुंची आठ पर

सुमित को चीन के झिवे डेंग के खिलाफ क्वॉर्टर-फाइनल में 3-0 से हार का सामना करना पड़ा। बाद में डेंग के फाइनल में पहुंचने पर सुमित को ब्रॉन्ज मेडल के प्ले-ऑफ मुकाबले में खेलने का मौका मिला जिसमें उन्होंने ताजिकिस्तान के फरखोद अनाकुलोव को 8-2 से हराया।

दूसरे दिन के दो सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज मेडल मिलाकर भारत अब तक इस इवेंट में कुल आठ मेडल्स जीत चुका है। टीम इंडिया ने पहले दिन एक गोल्ड, एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

Author: हिंदी में स्पोर्ट्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *